जो शौचालय नहीं बना सके, वह कैसे बनाएंगे उत्तर -स्मृति इरानी

रायबरेली । नरेन्द्र मोदी सरकार में महिला तथा बाल कल्याण मंत्री स्मृति इरानी ने कांग्रेस के बड़े किले रायबरेली में शनिवार को सांसद सोनिया गांधी के साथ अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पर तंज कसा। कांग्रेस के गढ़ अमेठी से राहुल गांधी को हराकर सांसद बनीं स्मृति इरानी ने रायबरेली में दिशा की बैठक की अध्यक्षता की। इस बैठक की अध्यक्षता उस क्षेत्र के लोकसभा सदस्य ही करते हैं, लेकिन स्मृति इरानी ने तीन वर्ष से सांसद के ना आने के कारण नहीं हो पा रही दिशा की बैठक को सम्पन्न कराया।

स्मृति इरानी ने बैठक के बाद मीडिया से वार्ता भी की। उन्होंने सोनिया गांधी और प्रियंका वाड्रा पर तंज कसने के साथ भाजपा सरकार की उपलब्धियों को भी गिनाया। उन्होंने कहा कि जो लोग अपने संसदीय क्षेत्र में शौचालय नहीं बनवा सके वो लोग उत्तर प्रदेश के विकास की बात करते हैं तो मजाक सा लगता है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के कार्यकाल में रायबरेली में पांच लाख परिवारों को शौचालय दिया गया। इसके साथ ही यहां पर 1978 से किराये के भवन में चल रही डिस्पेंसरी को बिल्डिंग दी गई। स्मृति इरानी ने जिला मुख्यालय के प्रगतिपुरम में ईएसआइ डिस्पेंसरी एवं शाखा कार्यालय का उद्घाटन किया।

केन्द्रीय मंत्री ने इस दौरान विकास के मुद्दे पर कांग्रेस और यूपीए सरकार को घेरा। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह असम से राज्य सभा सदस्य थे। श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री रामेश्वर तेली भी वहीं से सदस्य हैं। इनके यहां आने पर किराए के भवन में चल रही डिस्पेंसरी को अपनी बिल्डिंग मिल गई। उन्होंने कहा कि यहां रामेश्वर तेली ने आगमन के बाद डिस्पेंसरी की हकीकत देखी। वह एकशन में आ गए और फिर ऐसा प्रयास किया कि डिस्पेंसरी को अपना भवन मिला।

Post Author: thesundayviews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *