तीन दिनों की पुलिस रिमांड पर लखीमपुर खीरी हिंसा के आरोपित अंकित दास, शेखर भारती, लतीफ उर्फ काले

लखीमपुर। लखीमपुर खीरी हिंसा के आरोपित अंकित दास, शेखर भारती, लतीफ उर्फ काले की तीन दिनों की पुलिस रिमांड मंजूर कर ली गई। तीनों आरोपित 14 अक्टूबर को सुबह दस बजे से 17 अक्टूबर को सुबह दस बजे तक पुलिस कस्टडी में रहेंगे। बुधवार को आरोपित शेखर भारती को जेल से तलब कर सीजेएम कोर्ट लाया गया। इसके बाद अभियोजन पक्ष के आरोपित शेखर भारती को पुलिस रिमांड पर लेने की बाबत दाखिल अर्जी पर अदालत ने दोनों पक्षों की बहस सुनने के दो घंटे बाद फैसला सुनाया। सीजेएम चिंता राम ने आरोपित शेखर भारती की तीन दिनों की पुलिस कस्टडी रिमांड मंजूर कर ली।

इसी दिन बुधवार को घटना के मुख्य आरोपित आशीष मिश्र के करीबी लखनऊ के कांट्रेक्टर अंकित दास व उनके निजी सुरक्षा कर्मी लतीफ उर्फ काले सुबह दस बजे के करीब क्राइम ब्रांच के दफ्तर पहुंच गए। एसआइटी ने दोनों आरोपितों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी। लगभग साढ़े तीन घंटे की पूछताछ के बाद डेढ़ बजे के करीब एसआइटी ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपितों को सीजेएम की अदालत में पेश किया गया। सीजेएम ने दोनों आरोपितों को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। न्यायिक हिरासत में लेने के समय ही अभियोजन पक्ष की ओर से वरिष्ठ अभियोजन अधिकारी एसपी यादव ने कोर्ट में 14 दिनों की पुलिस कस्टडी रिमांड की अर्जी दाखिल कर दी और उसकी प्रति आरोपितों के अधिवक्ता अवधेश कुमार को प्राप्त करा दी गई।

आरोपितों के अधिवक्ता ने उसी समय बहस बहस करते हुए बताया कि घटना में आरोपितों की कोई भूमिका नहीं है। आरोपित अंकित दास को रीढ़ की हड्डी व सुगर का मरीज बताते हुए रिमांड न दिए जाने की याचना की। इस पर एसपीओ एसपी यादव ने बताया कि अंकित दास काफिले में मौजूद था और उससे मौके पर ले जाकर रिक्रिएशन कराना है। सीजेएम ने दोनों की बहस सुनने के बाद आरोपित अंकित दास व लतीफ उर्फ काले की भी तीन दिनों की पुलिस कस्टडी रिमांड मंजूर कर दी। इन तीन दिनों में एसआइटी तीनों आरोपितों अंकित दास, शेखर भारती व लतीफ उर्फ काले से घटना की बाबत पूछताछ करेगी और घटना से संबंधित साक्ष्य संकलन भी करेगी।

Post Author: thesundayviews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *