नवरात्र महोत्सव आज से: मंदिरों में तैयारी पूरी, कोरोना रोकथाम के नियमों का पालन करने के निर्देश

झंडेवाला मंदिर में लाइन में लगे बिना किए जा सकते है माता के दर्शन

 

 

 

 

   वैभव पाण्डेय

नई दिल्ली।
कोरोना महामारी के बीच राजधानी के तमाम मंदिरों में शारदीय नवरात्र महोत्सव बृहस्पतिवार को पूरे धूमधाम के साथ शुरू होगा। इस सिलसिले में मंदिरों में कोरोना महामारी की रोकथाम के नियमों का पालन करने के दिशा निर्देशों के तहत व्यवस्था करते हुए सभी तैयारी पूरी कर ली गई है। मंदिरों में मां भगवती की पूजा और गुणगान के लिए अनेक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। वहीं मंदिरों को विशेष रूप से सजाया गया है। मंदिरों और उनके आसपास के क्षेत्र में प्रकाश की उत्तम व्यवस्था की गई है। सुरक्षा की दृष्टि से मंदिरों में सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए है और पुलिस चौकी बनाई गई है।

राजधानी के तमाम मंदिरों में बृहस्पतिवार की सुबह नवरात्र महोत्सव शुरू होगा। मंदिरों में सुबह मां के दरबार के पट खोले जाएंगे। इसके बाद मां का अभिषेक करने के बाद विशेष आरती की जाएगी। यह प्रक्रिया पूरी होने के बाद श्रद्धालुओं को मां की आराधना करने के लिए प्रवेश दिया जाएगा। मंदिर में मास्क लगाए बिना आने वाले श्रद्धालुओं को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। झंडेवाला मंदिर में नवरात्र के दौरान रोजाना भजन व कीर्तन किया जाएगा। श्रद्धालुओं को घरों में नवरात्रों में अखंड ज्योत जलाने के लिए मंदिर की अखंड ज्योत से ज्योतियां देने का सिलसिला शुरू हो गया है।

छतरपुर स्थित श्री आद्या कात्यायनी शक्तिपीठ मंदिर में नवरात्र महोत्सव में रोजाना कीर्तन, भजनों का आयोजन होगा। कालकाजी मंदिर में सुबह तीन बजे मंदिर में भगवती पूजा अर्चना आरंभ की जाएगी। प्रीत विहार स्थित दुर्गा माता मंदिर को विशेष तौर पर सजाया गया है और रोजाना पूरा दिन कीर्तन होगा। भक्तों की सुविधा के लिए विशेष इंतजाम किए गए है। महरौली स्थित योग माया मंदिर में भी नवरात्र महोत्सव मनाया जाएगा। बाहरी रिंग रोड स्थित काली माता मंदिर में नवरात्रा महोत्सव में मां भगवती का गुणगान किया जाएगा। हरिनगर स्थित संतोषी माता मंदिर में रोजाना संकीर्तन के अलावा नाट्य मंचन, नृत्य, दुर्गा सरस्वती पाठ किया जाएगा। दूसरी ओर श्रद्धालु अपने घरों में भी भगवती की पूजा आरंभ करेंगे। बहुत से श्रद्धालु नौ दिनों तक अखंड ज्योत जलाएंगे ओर व्रत रखेंगे। इसके लिए श्रद्धालुओं ने खास तौर पर तैयारी की है।

कोरोना महामारी के बीच नवरात्र के दौरान दिल्ली के विख्यात झंडेवाला माता मंदिर में श्रद्धालु लाइन में लगे बिना भीड़भाड़ से दूर रहते हुए दर्शन कर सकेंगे। इसके लिए उन्हें अपनी सुविधानुसार दर्शन के लिए ऑनलाइन बुकिंग करानी होगी। इसके अलावा श्रद्धालु घर बैठे भी मंदिर से जुड़कर माता के दर्शन कर सकते है और मंदिर में हो रही आरती, जागरण, भजन, कीर्तन कार्यक्रम में शामिल हो सकते है। मंदिर प्रबंधन ने श्रद्धालुओं के लिए इस तरह की ऑन लाइन सुविधा शुरू की है। मंदिर के मीडिया प्रभारी एनके सेठी ने बताया कि बहुत से श्रद्धालु भीड़ के कारण दर्शन करने के लिए नहीं आते है, जबकि अनेक श्रद्धालुओं के पास लाइन में खड़ा होने का समय नहीं होता है। ऐसे श्रद्धालुओं के दर्शन कराने के लिए ऑनलाइन बुकिंग करने की सुविधा शुरू की है। श्रद्धालु मंदिर की बेवसाइड एवं एप अपनी सुविधानुसार दर्शन करने की बुकिंग करा सकते है। एक बुकिंग पर चार व्यक्ति दर्शन करने के लिए आ सकते है। मंदिर समिति ने 400-400 लोगों के ग्रुप बनाए है एक ग्रुप के सदस्यों को तीन घंटे के दौरान दर्शन कराने का समय तय किया है।

दूसरी ओर एनके सेठी ने बताया कि मंदिर तक आने में असमर्थ श्रद्धालु घर बैठे ही माता के दर्शन कर सकेंगे। वह यूट्यूब, फेसबुक और मंदिर के एप पर माता के दर्शन कर सकेंगे और आरती, जागरण एवं कीर्तन देख सकेंगे। इसी तरह लाइन में लगे श्रद्धालु भी समय-समय पर आरती, जागरण व कीर्तन देख सकेंगे और माता के दर्शन भी करते-करत मंदिर में प्रवेश कर सकते है। इसके लिए उन्हें अपने मोबाइल फोन का सहारा लेना होगा।

 

Post Author: thesundayviews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *