काबुल से 168 यात्रियों को लेकर फिर उड़ा भारतीय विमान, आज पहुंचेगा हिंडन एयरबेस

एयर इंडिया का विमान भी भर चुका है उड़ान 

दोहा से 135 भारतीयों का जत्था भी होगा रवाना 

दिल्ली ।अफगानिस्तान में लगातार बिगड़ते हालातों के बीच भारत सरकार अपने नागरिकों को एयरलिफ्ट करा रही है। ताजा जानकारी के अनुसार भारतीय वायु सेना का विमान सी-17 आज सुबह ही काबुल से उड़ान भर चुका है। इसमें 168 यात्री सवार हैं।विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने यह जानकारी ट्विटर के माध्यम से दी। उन्होंने बताया कि सी-17 विमान काबुल से भारत के लिए रवाना हो चुका है। इस विमान में 107 भारतीय नागरिक यात्रा कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि विमान आज सुबह काबुल से चला है, जो आज ही गाजियाबाद स्थित हिंडन एयरबेस पहुंच जाएगा। इससे पहले काबुल से एयर इंडिया का विमान भी आज सुबह ही उड़ान भर चुका है। इस विमान में 87 भारतीय सवार हैं। इनको ताजिकिस्तान के रास्ते दिल्ली लाया जा रहा है। इसकी जानकारी भी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ट्वीट कर दी थी। इसमें दो नेपाली नागरिक भी हैं।

कतर में भारतीय दूतावास ने रविवार को बताया कि पिछले कुछ दिनों में काबुल से दोहा लाए गए 135 भारतीयों के पहले जत्थे को भारत वापस भेजा जा रहा है। कतर में भारतीय दूतावास ने ट्वीट कर बताया कि ‘135 भारतीयों का पहला जत्था जिन्हें पिछले दिनों काबुल से दोहा लाया गया था, आज रात भारत वापस भेजा जा रहा है। दूतावास के अधिकारियों ने उनकी सुरक्षित वापसी सुनिश्चित करने के लिए कांसुलर और रसद सहायता प्रदान की। अफगानिस्तान से रविवार सुबह करीब 500 लोगों के अन्य जगहों से विमानों से भारत लौटने की उम्मीद है। इससे पहले शनिवार को सरकारी सूत्रों ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया कि अफगानिस्तान में फंसे अपने नागरिकों को निकालने के लिए भारत को काबुल से प्रतिदिन दो उड़ानें संचालित करने की अनुमति दी गई है।

15 अगस्त को तालिबान द्वारा अफगान राजधानी पर कब्जा करने के बाद हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के संचालन को नियंत्रित करने वाले अमेरिकी और उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) बलों द्वारा अनुमति दी गई है। उनके द्वारा कुल 25 उड़ानें संचालित की जा रही हैं, क्योंकि वे वर्तमान में अपने नागरिकों, हथियारों और उपकरणों को निकालने पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।

 

Post Author: thesundayviews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *