द संडे व्यूज़ डीजी से मांगता है जवाब: रात के अंधेरे में कहां जाती है सरकारी ट्रक?

होमगार्ड मुख्यालय के किस अफसर के इशारे पर रात के अंधेरे में निकलता है सरकारी ट्रक ?

कौन है वो अफसर जो सरकारी ट्रक से करा रहा है अवैध काम ?

आखिर किसकी धमकी पर डरे जवान बावर्दी करते हैं अंधेरे में अवैध काम ?

द संडे व्यूज़ डीजी से मांगता है जवाब: रात के अंधेरे में कहां जाती है सरकारी ट्रक ?

भ्रष्ट अफसरों पर क्यों बरत रहे हैं मेहरबानी?

संजय पुरबिया

लखनऊ। मुख्यमंत्री जी,आखिर आपके पास जो विभाग है,वहां तैनात अफसर इतने बेअंदाज क्यों हो गये हैं ? क्या शासन के अफसरों ने छूट दे रखा है कि खुलकर करो भ्रष्टाचार और नियमावली की ऐसी की तैसी करो…। आखिर अफसर इतने बेखौफ क्यों हैं कि वे योगी जी के मिशन को बदनाम करने पर आमादा हो गये हैं ? कहीं ये लोग भाजपा विरोधी तो नहीं? सवाल कई हैं जिनका जवाब द संडे व्यूज़ डीजी,होमगार्ड विजय कुमार से मांग रहा है…। आप बतायें कि आखिर रात के अंधेरे में मुख्यालय परिसर में खड़ी नई नवेली ट्रक यू पी 41जी0451 कहां जाता है ? आखिर वो कौन अफसर है जिसकी धौंस के आगे आप भी मौन साध लेते हैं? कहीं रात के अंधेरे में सरकारी ट्रक से हो रहे अवैध धंधे की जानकारी आपको तो नहीं ?


द संडे व्यूज़ वेब न्यूज चैनल करने जा रहा है सनसनीखेज खुलासा…। हम बतायेंगे कि गुलाम की तरह काम कराने वाले मुख्यालय के एमटी विभाग के प्रभारी और अधिकारी किस तरह योगी राज का मजाक बना रहे हैं। मुख्यालय पर तैनात सूत्र ने बताया कि डीजी साहेब भ्रस्टाचारियों के खिलाफ कार्रवाई तो दूर उन्हें संरक्षण देने का काम कर रहे हैं। डीजी साहेब,मैं आपको ये भी बता दूंगा कि इस मामले में दोषी अधिकारी और कर्मचारी पर कौन-कौन सी धारा के तहत कार्रवाई होनी चाहिये। ये अलग बात है कि दोषी लोगों पर कार्रवाई नहीं की जायेगी। सूत्रों ने बताया कि यही वजह है कि मुख्यालय पर पूरी तरह से अराजकता का माहौल बनता जा रहा है। सूत्र ने यह भी बताया कि यहां अफसर शासन की नियमावली की धज्जियां उड़ाने में रत्ती भर नहीं डरते,यही वजह है कि रात के अंधेरे में ऐसा काम किया जा रहा है जिसे सुनकर डीजी भी शर्मशार हो जायेंगे कि जिसे बचाने के लिये अपनी प्रतिष्ठा दांव पर लगा रहे हैं,दरअसल उसके कारनामे क्या-क्या है? देखते रहिये द संडे व्यूज वेब न्यूज चैनल। भईया सबस्क्राईब करना ना भूलें…

Post Author: thesundayviews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *