महिला पुलिस कांस्टेबल का एक वर्ष तक दुष्कर्म किया रहा मौलाना

बागपत

झाड़फूंक से इलाज व घर की सुख शांति के अंधविश्वास के चलते जहां लोग तांत्रिकों व मौलानाओं की बातों में आकर छोटे बच्चों की बली चढ़ा रहे हैं, वहीं कई महिलाएं उनकी हवस का शिकार भी बन रही हैं। ताजा मामला बागपत की एक महिला हेड कांस्टेबल का है, जो अपने बेटे के इलाज व घर की सुख शांति के लिए एक मौलाना के जाल में फंस गई। मौलाना ने हेड कांस्टेबल के अंधविश्वास का फायदा पूरा फायदा उठाया और करीब एक वर्ष तक उसके साथ दुष्कर्म किया।

साथ ही इलाज के नाम पर उससे लाखों रुपये भी ऐंठ लिए। इतना ही नहीं शारीरिक संबंध न बनाने पर आरोपी मौलाना महिला हेड कांस्टेबल को उसके बेटे की मौत की चेतावनी देकर डराता था। मौलाना से परेशान होकर पीड़िता ने उसके खिलाफ महिला थाने में दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराई। फिलहाल आरोपी मौलाना फरार है, पुलिस उसकी गिरफ्तारी के प्रयास में दबिशें दे रही है।

जानकारी के अनुसार बिजनौर निवासी महिला वर्ष 2006 में अपने पति की मृत्यु के बाद आश्रित कोटे में कांस्टेबल के पद पर तैनात हुई थी। अब पदोन्नति के बाद वह हेडकांस्टेबल के पद पर बागपत जनपद के एक थाने में तैनात है। पिछले साल 29 जून को महिला कांस्टेबल का छोटा पुत्र सड़क हादसे में घायल हो गया था। बेटे का कई माह तक आईसीयू में इलाज भी चला। इसी दौरान किसी ने उसके बेटे पर ऊपरी-हवा होने की बात बताई, तो कांस्टेबल घबरा गई। बेटे के उपचार के लिए वह 30 जुलाई 18 को शहर की मोमीन मस्जिद के मौलाना जुबैर के पास पहुंची। 

आरोप है कि मौलाना ने पीड़िता को उसके बेटे के अंदर जिन होने का हवाला देकर उसे रात के 10.30 बजे अकेला बुलाया। मौलाना ने खुद को जिन का रूप बताते हुए महिला कांस्टेबल से दुष्कर्म किया। साथ ही आगे भी ऐसा करने को कहा। इस तरह मौलाना ने उसे बेटे की मौत का डर दिखाते हुए करीब एक वर्ष तक दुष्कर्म किया। चर्चा है कि मौलाना ने पीड़िता से करीब 27 लाख रुपये भी ऐंठ लिए हैं, हालांकि महिला हेड कांस्टेबल ने इन रुपये का एफआईआर में कोई जिक्र नहीं किया है। आरोप है कि मौलाना अब घर आकर भी परेशान करने लगा, जिससे पीड़िता मानसिक रूप से परेशान रहने लगी।

मामले में पीड़िता ने पुलिस अधिकारियों को जानकारी दी, जिसके बाद उसने महिला थाने में आरोपी मौलाना जुबैर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस मौलाना की गिरफ्तारी के लिए लगातार दबिश दे रही है, लेकिन अभी तक वह पुलिस के हाथ नहीं लग सका। मामले में एसपी प्रताप गोपेन्द्र यादव का कहना है कि महिला हेड कास्टेबल की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। जल्द ही मौलाना को गिरफ्तार कर कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

Post Author: thesundayviews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *