फिर याद आई गौरी हत्याकाण्ड-महिला की हत्या कर लाश तीन टुकड़ों में की, फिर बैग में डाल कर फेंका

हत्या में परिचित का हाथ
लखनऊ
 कृष्णानगर में एक महिला की हत्या करने के बाद उसका शव तीन टुकड़ों में काट दिया गया। फिर हत्यारे ने लाश के तीनों टुकड़े लाल रंग के एक बैग में भरे और शुक्रवार रात करीब तीन बजे उसे पैदल ही लेकर राम मनोहर लोहिया विधि विश्वविद्यालय के पास फेंक दिया। शनिवार सुबह जब लावारिस पड़े इस बैग को लोगों ने खोला तो उसमें लाश मिलने से हड़कम्प मच गया। पुलिस ने जब तीन घंटे तक सीसी फुटेज खंगाला तो बैग लेकर घूमने वाला शख्स दिखा। हालांकि अभी महिला और हत्यारे की शिनाख्त नहीं हो सकी है, जिसके कारण पुलिस की तफ्तीश ज्यादा आगे नहीं बढ़ पा रही है।

शनिवार सुबह जब कुछ लोगों ने लावारिस बैग देखा तो पहले पुलिस को सूचना दी। हालांकि पुलिस के पहुंचने से पहले ही दो लोगों ने बैग खोल दिया था। बैग में एक महिला का शव तीन टुकड़ों में था। कुछ देर में आस पास यह खबर फैल गई। पुलिस ने बैग की तलाशी ली लेकिन उसमें कोई ऐसी चीज नहीं थी जिससे महिला की शिनाख्त हो सके। कुछ प्रत्यक्षदर्शियों ने यह बताया कि बैग में कुछ कागज के टुकड़े मिले थे जिन पर कुछ लिखा हुआ था। पर, पुलिस इससे इनकार कर रही है।

सुबह जब बैग में महिला का शव मिला तो एसएसपी समेत कई अधिकारी मौके पर पहुंच गये थे। एसएसपी ने क्राइम ब्रांच की एक टीम भी वहीं बुला ली थी। जब आस पास पूछताछ के बाद भी शिनाख्त नहीं हो सकी तो वहां लगे सीसी कैमरों की फुटेज खंगाली जाने लगी। करीब दो तीन किमी. के बीच हर दुकान व पुलिस के कैमरों की फुटेज देखी गई। इन फुटेज में एक व्यक्ति लाल रंग का बैग ले जाते हुए आशियाना, हिन्दनगर से कृष्णानगर की ओर जाते दिखा। पीठ पर बैग लादे हुए चलते समय उसके कदम भी लड़खड़ाते दिखे।

जिस तरह से लाश से भरा बैग लेकर व्यक्ति जा रहा है, उससे यही कयास लगाये जा रहे हैं कि इस हत्या में किसी परिचित का ही हाथ है। यह हत्या या तो पुरानी रंजिश में की गई है या अवैध सम्बन्ध इसकी वजह है। आरोपी का चेहरा तो साफ हो गया है। पर, उसकी पहचान नहीं हो सकी है। एसएसपी कलानिधि नैथानी का कहना है कि महिला की फोटो आसपास के जिले में भी भेज दी गई है। पहचान होते ही हत्यारे तक पुलिस के हाथ पहुंच जायेंगे।

एक फरवरी, 2015 को पीजीआई के पास एक छात्रा का शव कई टुकड़ों में थोड़ी-थोड़ी दूरी पर मिला था। इस छात्रा की शिनाख्त गौरी के रूप में हुई थी। इस घटना से पूरा शहर हिल गया था। हालांकि बाद में हत्या आरोपी उसका दोस्त निकला था। शनिवार को जब महिला का तीन टुकड़ों में शव मिला तो इस हत्याकाण्ड के बारे में कई लोगों ने चर्चा की।

Post Author: thesundayviews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *