टांडा विधायक संजू देवी के प्रतिनिधि की गुंडई से सहमा मेडिकल कालेज, जमकर हुई तोडफ़ोड़,वाहनों में लगे आग

मेडिकल कॉलेज में गुंडागर्दी पर विधायक प्रतिनिधि समेत नौ गिरफ्तारए कर्मचारी व डॉक्टर हड़ताल पर

ब्यूरो
अंबेडकरनगर। अंबेडकरनगर के राजकीय मेडिकल कॉलेज सद्दरपुर में सोमवार देर रात विधायक प्रतिनिधि श्यामबाबू व उनके समर्थकों द्वारा उत्पात मचाने व प्राचार्य और डॉक्टर से मारपीट करने के मामले में विधायक प्रतिनिधि समेत नौ लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। दूसरी तरफ, मेडिकल कॉलेज के सभी प्रतिनिधि व कर्मचारी हड़ताल पर हैं। उनका कहना है कि जब तक आरोपियों को जेल नहीं जाता वह काम नहीं करेंगे। विधायक प्रतिनिधि व उनके समर्थकों के खिलाफ डॉक्टरों की तहरीर पर मंगलवार रात ही में केस दर्ज कर लिया गया था।

विधायक व उनके प्रतिनिधियों ने मंगलवार देर रात इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए टांडा विधायक के प्रतिनिधियों और समर्थकों ने जमकर गुंडागर्दी की। उन्होंने न सिर्फ प्राचार्य को बंधक बना लिया बल्कि उनकी और इमरजेंसी चिकित्सक की पिटाई भी कर दी। घटना से नाराज मेडिकल छात्रों ने मौके पर गए विधायक के वाहन समेत अन्य वाहनों में तोडफ़ोड़ शुरू कर दी। विधायक समर्थकों ने कई राउंड फ ायरिंग भी किया।

टांडा विधायक संजू देवी के प्रतिनिधि श्यामबाबू मंगलवार देर रात समर्थकों के साथ मेडिकल कालेज पहुंचे। वहां उनके परिवार से जुड़ा कोई मरीज भर्ती था। अस्पताल पहुंचते ही श्याम बाबू इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए भडक़ उठे। मेडिकल कालेज प्राचार्य डॉ पी के सिंह भी तब तक वहां पहुंच चुके थे। मरीज को हेड इंजरी होने के कारण चिकित्सकों ने सीटी स्कैन कराकर रेफ र का कागज बना दिया। इसी बीच पता चला कि एंबुलेंस का ड्राइवर नदारद है। इस पर श्यामबाबू और भडक़ गए और प्राचार्य को पकड़ कर ड्यूटी रूम में बंधक बना लिया।

प्राचार्य और एक चिकित्सक की पिटाई भी इसी दौरान कर दी गई। सत्ता के नशे में चूर विधायक प्रतिनिधि और उनके समर्थकों की इस करतूत की खबर परिसर में फैली तो हॉस्टल में रह रहे मेडिकल छात्र बाहर निकल आए। बड़ी संख्या में छात्रों को आता देख विधायक समर्थकों में भगदड़ मच गई। छात्रों को रोकने के लिए कई राउंड फ ायरिंग भी हुई। छात्रों ने इसके बावजूद विधायक के साथ चलने वाले उन वाहनों में तोडफ़ोड़ शुरू कर दी। इसी बीच मौके पर सीओ टांडा के के मिश्र के अलावा टांडा और अलीगंज थाने की फ ोर्स पहुंच गई। अब स्थिति यह है कि विधायक और मेडिकल कालेज के कर्मचारी दोनों धरने पर बैठ गए हैं। देखते हैं आगे क्या होता है।

Post Author: thesundayviews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *