चारबाग के एसएसजे और विराट होटल में लगी भीषण आग, चार जिंदा जले, कई झुलसे

लखनऊ
लखनऊ के चारबाग स्थित एसएसजे इंटरनेशनल होटल में मंगलवार तड़के अचानक आग लग गई। आग की लपटें इतनी तेज थीं कि कुछ ही मिनटों में आग ने बगल में स्थित विराट होटल को भी अपनी जद में ले लिया। हादसे में अभी तक चार लोगों की मौत की सूचना है, जबकि कई लोग गंभीर रूप से झुलस गए हैं। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूचना के करीब डेढ़ घंटे बाद पहुंची दमकल की गाड़ियां आग पर काबू पाने में लगी हैं। चारबाग रेलवे स्टेशन के पास एसएसजे इंटरनेशनल होटल है। बताते हैं कि होटल की पहली मंजिल पर सुबह 5:30 बजे के करीब आग लग गई। उस समय होटल में ठहरे ज्यादातर टूरिस्ट सो रहे थे। लपटें उठती देख होटल कर्मी और बाहर के लोगों ने शोर मचाना शुरू किया तो भगदड़ मच गई।

 

पर्यटक और होटल कर्मचारी भागे लेकिन तब तक आग ने विकराल रूप धारण कर लिया और बगल में स्थित विराट होटल भी इसकी चपेट में आ गया। लपटें तेज होने के चलते कई लोग होटल से नहीं निकल पाए।मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि फायर ब्रिगेड की टीम को 6 बजे सूचना दी गई लेकिन टीम 7:30 बजे मौके पर पहुंची और तब तक दोनों होटल पूरी तरह राख हो चुके थे। होटल में फंसे लोगों को जब तक टीम निकालती तब तक कई लोग गंभीर रूप से झुलस गए। तत्काल उन्हें अलग-अलग अस्पताल में भर्ती कराया गया।


करीब डेढ़ घंटे बाद एसएसजे होटल के एक कमरे से टीम ने बुरी तरह झुलसे व्यक्ति को निकाला लेकिन तब तक वह दम तोड़ चुका था। इसके बाद एसएसजे और विराट होटल से एक-एक कर तीन और शव निकाले गए। अभी और भी कई लोगों के अंदर फंसे होने की संभावना जताई जा रही है। रेस्क्यू टीम लोगों को निकालने में जुटी है।घटना की सूचना मिलते ही एसएसपी दीपक कुमार भी पहुंचे। उन्होंने कहा कि होटल की पहली मंजिल पर आग की लपटें उठीं थीं, जिसकी चपेट में पूरा होटल आ गया। इस पर काबू पाने के लिए टीमें लगी हैं। उन्होंने कहा कि फिलहाल आग लगने के कारणों का पता नहीं चल सका है। जांच की जा रही है। घटना का जायजा लेने के लिए आईजी एस पांडेय भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि हादसे में चार लोगों की मौत हो गई है जबकि दोनों होटलों से 50 से ज्यादा लोगों को सुरक्षित बचाया गया है। आईजी ने कहा कि आग के कारणों का अभी पता नहीं चल सका है। अगर जांच में होटल के स्तर से चूक मिलती है तो संबंधित के खिलाफ हम सख्त कार्रवाई करेंगे।

वहीं, पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने भी घटनास्थल का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि घायलों को बेहतर उपचार मुहैया कराया जा रहा है। जिन लोगों को सुरक्षित बचाया गया है, उनका सामान रखा हो गया है। ऐसे में उन्हें उनके घर तक पहुंचाने के लिए हम व्यवस्था कर रहे हैं।

Post Author: thesundayviews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *