मुलायम सिंह यादव ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की, सियासी गलियारों में निकल रहे हैं कई मायने

राजनीतिक हलकों में चर्चाओं का बाजार गरम

लगभग बीस मिनट तक चली मुलाकात

लखनऊ। कर्नाटक चुनाव अब समाप्त हो चुका है। अब सभी पार्टियों की नजरें 2019 के लोकसभा चुनाव पर अभी से टिक गई हैं। बुधवार को समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। सियासी गलियारों में इस मुलाकात के कई मायने निकाले जा रहे हैं।

यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और देश के रक्षा मंत्री रहे मुलायम सिंह यादव राजनीति के माहिर खिलाड़ी माने जाते हैं। मुख्यमंत्री योगी से उनकी मुलाकात के काफी कयास लग रहे हैं। समाजवादी पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव बुधवार को दोपहर करीब एक बजे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलने उनके सरकारी आवास पांच कालीदास मार्ग पहुंचे। मुलायम सिंह यादव की यह भेंट पहले से निर्धारित नहीं थी। मुलायम सिंह की योगी आदित्यनाथ से अचानक मुलाकात को लेकर राजनीतिक हलकों में चर्चाओं का बाजार गरम है।

इस भेंट के कई मायने निकाले जा रहे हैं। मुलायम सिंह यादव और सीएम योगी आदित्यनाथ की यह भेंट लगभग बीस मिनट तक चली। इसके बाद मुलायम सिंह  सीधे वापस अपने आवास चले गए। नूरपुर विधानसभा का और कैराना में लोकसभा का उप चुनाव होने वाला है। इसको लेकर राजनीतिक सरर्गी काफी तेज है। सपा ने पिछले दिनों अपने स्टार प्रचारकों की सूची जारी की थी, लेकिन हैरत की बात रही कि इस सूची में मुलायम सिंह यादव और शिवपाल सिंह यादव का नाम नहीं था।

समाजवादी पार्टी ने जो स्टार प्रचारकों की सूची चुनाव आयोग को भेजी है। उसमें मुलायम सिंह और शिवपाल यादव का नाम शामिल नहीं है। बतातें चलें कि हाल ही में हुए गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उप चुनाव में भी सपा के स्टार प्रचारकों की लिस्ट में मुलायम सिंह यादव और शिवपाल सिंह यादव का नाम नहीं था। अब मुलायम सिंह की सीएम योगी की मुलाकात ने राजनीत के गलियारों में चर्चाओं का बाजार गर्म कर दिया है।

Post Author: thesundayviews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *