इराक से वापस लौटे भारतीयों के अवशेष, भावुक हुए वीके सिंह

नईदिल्ली। इराक के मोसुल में आतंकवादी संगठन ISIS द्वारा मारे गए भारतीय नागरिकों के शवों को लेकर विदेश राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह विशेष विमान द्वारा गुरु रामदास अंतरर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट पहुंच गए हैं। पंजाब सरकार की तरफ से कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू एयरपोर्ट पर मौजूद थे।

इस दौरान पत्रकार वार्ता के दौरान सिंह तथा सिद्धू के साथ प्रेस कांफ्रेंस की। सिद्धू ने पंजाब सरकार की तरफ से पीडि़त परिवारों को 5-5 लाख रुपए के साथ परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने की घोषणा कि है। विदेश राज्यमंत्री वी।के  सिंह ने यह कहा कि इराक में जो 39 भारतीय मारे गए वह सभी अवैध एजैंटों के जरिए इराक गए थे। इसके चलते भारतीय एंबैसी के पास इन भारतीयों का कोई रिकार्ड नहीं था। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को इन अवैध एजैंटों पर कार्रवाई करनी चाहिए। राज्य सरकार तथा केंद्र द्वारा पीडित परिवारों की सहायता की जाएगी।

वहीं अमृतसर एयरपोर्ट से पंजाब तथा हिमाचल प्रदेश से संबंधित शवों को उनको गांवों की ओर रवाना कर दिया गया है। विदेश राज्यमंत्री वी।के। सिंह सिंह ने अपील की कि गैर-कानूनी एजेंट के माध्यम से लोग विदेश न जाएं। सिंह रविवार को भारतीय शवों को लाने के लिए इराक पहुंचे। गौरतलब है कि वर्ष 2014 में उत्तरी मोसुल शहर पर कब्जा करने के तुरंत बाद आईएस ने इन मजदूरों को अगवा कर लिया था। मृतकों के परिजनों से पूरी जानकारी मांगी गई है। उन्होंने कहा कि इस दौरान इराक सरकार ने हमारी बहुत मदद की, हम उनके शुक्रगुजार हैं।

Post Author: Sanjay Srivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *