कोच शास्त्री का बड़ा खुलासा, चिर-प्रतिद्वंद्वी पाक से हार ने बदल दिया टीम इंडिया का भाग्य

टीम इंडिया के रिस्ट स्पिनर्स कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हाल ही में संपन्न वन-डे सीरीज में क्रमशः 17 व 16 विकेट झटके। इसके अलावा कप्तान विराट कोहली की शानदार बल्लेबाजी भी टीम इंडिया के वन-डे में बेहतरीन प्रदर्शन की मुख्य वजह रही।

अब यह खुलासा हुआ है कि रिस्ट स्पिनर्स को टीम में शामिल करने का आईडिया कब आया। यह पता चला है कि पिछले साल टीम इंडिया को आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी फाइनल में चिर-प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से शिकस्त झेलनी पड़ी थी, जिसमें फिंगर स्पिनर्स आर अश्विन और रविंद्र जडेजा शामिल थे।टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री ने हालांकि कहा कि उन्होंने कप्तान विराट कोहली से विचार किया कि टीम निदेशक के रूप में उन्हें किस प्रकार के गेंदबाजी आक्रमण की जरुरत है।

शास्त्री ने कहा, ‘मेरे ख्याल से अपने कार्यकाल के समय मैंने कप्तान कोहली से डिस्कस किया कि हमें बीच के ओवरों में विकेट निकालने की जरुरत है। हमें ऐसे गेंदबाजों की जरुरत थी, जो साझेदारियों को तोड़ने में कामयाब हो ताकि मैच हाथ से नहीं फिसले। यही हमारा आईडिया था। इसके लिए हमें सही लोगों की जरुरत थी।’शास्त्री ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वन-डे सीरीज 5-1 से जीतने के बाद कहा, ‘हम भाग्यशाली रहे कि कुलदीप और चहल मिले, जिन्होंने इस काम को बखूबी किया। दोनों की जोड़ी ने कई मिश्रण मुहैया कराए, जो दर्शकों के लिए काफी मनोरंजक रहा। जब दर्शक मैच देखने आए तो उन्हें बल्लेबाजी के साथ-साथ बेहतरीन गेंदबाजी भी देखने को मिली।’

वहीं टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के बारे में बात करते हुए कोच ने कहा, ‘मैं सिर्फ यही कहूंगा कि विराट इस समय दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं।’

Post Author: Sanjay Srivastava

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *